What Is Solid Waste – Types, Causes, Souces & Control

solid-waste-essay

हेलो दोस्तों, आपका StudyDev में स्वागत है। आज हम आपको Solid Waste के बारे में आर्टिकल को शेयर करने वाला हूँ। आपको इस आर्टिकल में सॉलिड waste types, Sources of Solid Waste और Solid Waste क्या होती है और इसके क्या कारण हो सकते है। हम आपको इस पोस्ट के जरिए बताने वाले है। तो शुरू करते है Solid Waste Essay को।

What Is Sold Waste-ठोस कचरा क्या है?

यह एक तरह का सूखा हुआ प्रदूषक होता है। जो एक जगह पर स्थाई रूप से रहता है। जब तक कोई भी आदमी इस ठोस कचरे को एक जगह से दूसरी जगह तक नहीं लेकर जाता। तब तक यह ठोस पदार्थ उसी जगह पर रहकर प्रदूषण को आगमन देता है। इसी तरह के प्रदूषण को हम Soild Waste कहते है।

यह कई तरह से पैदा होती है जैसे – रसोई का कचरा, गत्ते, प्लास्टिक की वस्तु और कारखानों और खेत की बचत ठोस कचरा फ़ैलाने में अपना योगदान देते है। यह कचरा दो तरह का होता है। एक घरेलू ठोस कचरा और व्यपारिक ठोस कचरा।

Solid Waste

यह भी पढ़े: What Is Water Pollution?

Types Of Solid Waste-ठोस कचरे की किस्में 

ठोस कचरा मुख्य रूप से 6 तरह का होता है। जिसे हम आगे देखने वाले है।

  • घरेलू ठोस कचरा (Domestic-Solid Waste) – यह कचरा हमारे घर में हर रोज़ पैदा होने वाला कचरा होता है। यह हमारी रसोई का व्यर्थ पदार्थ जैसे कि भोजन की बचत, सब्जियों की बचत, रबड़ का सामान, लकड़ी, चमड़ा, कपड़े, टीन, टूटा हुआ काँच और इसके इलावा और भी बहुत सारि बेकार की वस्तुए होती है। जो सॉलिड waste का काम करती है।
  • जीव जंतु और खेतीबाड़ी की बचत ( Animal & Agriculture Waste) – यह भी एक तरह का ठोस कूड़ा ही होता है। जैसे कि जब कोई जानवर जैसे बिल्ली, कुत्ता और गाय भैंस के इलावा और भी कई तरह के जानवर जो मर जाते वह प्रदूषण भी फैलाते है और बदबू भी। ऐसे में खेतीबाड़ी की बचत पराली के इलावा खाद जो के ठोस कचरे का ही एक रूप होती है।
  • उद्योगिक कचरा (Industrial Waste) – सॉलिड कचरा पैदा करने का सबसे बड़ा कारण उद्योग ही होते है। क्योंकि यह बहुत अधिक मात्रा में कच्चे पदार्थ का इस्तेमाल करते है। जिसके बाद यह कचरा पैदा होता है। यह कचरा पैदा करने के लिए जो मुख्य कारखाने है। उनमें से कुछ इस तरह है – प्लास्टिक उद्योग, भोजन -प्रोसेसिंग उद्योग, लकड़ी उद्योग, लोहे का कारखाना, साबन और सरफ की फैक्ट्री आदि।
  • सीवरेज (Sewage) – यह कचरा मनुष्य के मल मुतर और रसोई के कूड़े करकट के रूप में पैदा होता है। यह मनुष्य सेहत के बहुत ही हानिकारक होता है। इसको हम सीवरेज का ठोस कचरा भी कह सकते है।
  • खतरनाक कचरा (Hazardous Waste) – इसमें गोली सिक्का का कचरा, धमाका सामग्री, विस्फोटक कचरा और सरकारी रद्दी कागज़ शामिल होता है। यह बहुत ही खतरनाक किसम का ठोस कचरा होता है। इससे वायु प्रदूषण भी होने का खतरा बना रहता है।
  • दूसरे तरह का कचरा (Others) – इस तरह के कचरे में बहुत कुछ शामिल किया जा सकता है। जैसे कि टायर, फर्नीचर का सामान, रेफ्रीजिरेटर, गली का कचरा, पत्थर, बड़े बड़े वृक्ष और वह साधन जिनका त्याग किया जाता है। क्योंकि यह किसी हादसे के दौरान पूरी तरह से टूट जाते है। और यह बाद में एक ठोस कचरा बन जाता है।
Types of Solid Waste

यह भी पढ़े: वायु प्रदूषण क्या है और इसको कैसे रोके?

Source Of Solid Waste 

  • ताप बिजली घर।
  • सीमेंट उद्योग ठोस कचरा पैदा करते है।
  • धातु बनाने वाले कारखाने, कीटनाशक तैयार करने वाले उद्योग, कागज की फैक्ट्री और रंग बनाने वाले उद्योग सबसे जयादा ठोस कचरा पैदा करते है।
  • हस्पतालों से निकलने वाले ठोस कचरे में खून से युक्त पट्टियां, खाली बोतले, कॉटन और इंजेक्शन आदि एक ठोस कचरे का रूप होता है। यह कचरा बहुत ही सावधानी के साथ निपटाना चाहिए।
  • समुंदरी जहाज जो बहुत ही पुराने हो जाते है और कभी भी इस्तेमाल नहीं किए जा सकते। यह भी एक तरह का सॉलिड कचरा ही होता है।
  • इलेक्ट्रॉनिक कचरा जिसे हम E-Waste भी बोलते है, जिसमे कि पुराने कंप्यूटर, पुराने टेलीविज़न के इलावा इनके बचे हुए भाग भी इस कचरा का एक हिस्सा होते है।
  • कंस्ट्रक्शन के वक़्त बचा हुआ ठोस कचरा जिसमे ईंट, पत्थर और सीमेंट के बिना लोहे और लकड़ी का सामान।
  • ग्रीन waste जो को पार्क और स्कूल, कॉलेज में पायी जाती है। यह कचरा तब पैदा होता है, जब पार्क में लगे हुए वृक्ष के पत्ते और घास को काटा जाता है।
  • केमिकल बनाने वाली फैक्ट्री ठोस कचरे का मुख्य सोर्स है।

यह भी पढ़े: भूमि प्रदूषण क्या होता है और इसके क्या प्रभाव होते है?

Municipal Solid Waste क्या है?

यह Waste हमारे घरों, दफ्तरों, स्कूलों -कॉलेज और स्टोरों से पैदा होती है। इसे म्युनिसिपल कमेटी के द्वारा ही इकठा किया जाता है। यह कमेटी शहरों में ही बनाई जाती है। यह जो कचरा होता है, इसमें बचा हुआ भोजन, रबड़, कागज और फटे पुराने कपड़े आदि शामिल होते है। इन सभी तरह के कचरे को आग में जला दिया जाता है। जो बाकी कचरा जो आग के दौरान नहीं जलता है। उस पर चूहे, माखियाँ पलटी है जो कि बहुत सारी बिमारियों को पैदा करती है।

Source Of Solid waste
Classification of Solid Waste-कचरे की किस्में 

कचरा क्या है – वह अनचाहा वयर्थ पदार्थ जिसको न तो इस्तेमाल किया सके और न ही उसकी कोई महत्तता हो जिसके लिए उसे ख़तम न किया जाए। ऐसे पदार्थ को हम कचरा कहते है। यह कई किस्मों का हो सकता है। लेकिन हम आपको इसकी 10 किस्मों के बारे में बताने वाले है।

  1. Municipal Solid Waste (म्युनिसिपल सॉलिड कचरा )
  2. Biodegradable Solid Waste (खेतीबाड़ी बचत)
  3. Industrial Solid Waste (उद्योग कचरा)
  4. Medical Solid Waste ( मेडिकल कचरा)
  5. Hazardous Waste (खतरनाक ठोस कचरा )
  6. Radioactive Solid Waste (रेडियो एक्टिव कचरा )
  7. Green Solid Waste ( ग्रीन कचरा )
  8. Electronic Solid Waste ( इलेक्ट्रॉनिक ठोस कचरा )
  9. Chemical Waste (केमिकल कचरा )
  10. Construction Solid Waste ( निर्माण का कचरा )

यह भी पढ़े: प्रदूषण क्या है और इसकी कितनी किस्में होती है?

Control of Solid Waste-ठोस कचरे का प्रबंधन कैसे करें ?

आपको बतादें के हर एक वयक्ति हर रोज़ लगभग 500 ग्राम ठोस कचरा पैदा करता। यह बहुत ही जयादा है। हमें इसको कम करने ले लिए इन सभी बताए गए नियमों का पालन करना चाहिए।

  • प्लास्टिक के बने हुए लिफाफों की जगह हमें कागज़ के बने हुए बैग का इस्तेमाल करना चाहिए, और कपड़े के थैले का भी उपयोग किया सकता है।
  • कागज़ के दोनों तरह लिखना चाहिए, इससे बहुत सारे वृक्षों को भी हम बचा सकते है। और हम इससे सॉलिड कचरे को भी कम कर सकते है।
  • मुरदियों को जलाने की जगह इन्हें बिजली के जरिए इनका निपटारा करना चाहिए।
  • सब्जियों, फलों के शिलकों का इस्तेमाल या तो हमें पशुओं की खुराक के रूप में करना चाहिए। या फिर इससे बायोगैस बनानी चाहिए, और हम इसके बिना बनस्पति खाद भी बना सकते है।
  • कई तरह की पुरानी चीजें जिनमे पुरानी कापियाँ, टूटा काँच और इसके इलावा समाचार पत्र और प्लास्टिक को फेंकने की जगह हमें इनको द्वारा काम में लाने का यतन करना चाहिए।
  • जब हम कोई मकान बनाते है, तभी इसके बाद बहुत सारा ऐसा कचरा बच जाता है। जिनमें टूटी हुई ईंट, लकड़ी और प्लास्टिक का सामान आदि को ऐसी जगह पर फेंकना चाहिए। यहाँ पर इसकी आवश्यकता हो जैसे कि सड़क के गड्डों को भरना चाहिए इस कचरे से।
  • हमें उन चीजों का इस्तेमाल अधिक करना चाहिए जिनका पुनरचक्कर किया जा सके।
  • हमें प्लास्टिक की बची हुई बोतलों से गुलदस्ते और गमले बनाने चाहिए।
  • सभी तरह की बची हुई वटु को फेंकने की जगह इनको दान या फिर बेच देना चाहिए।

तो दोस्तों, हम अपने इस आर्टिकल को यही पर ख़तम करते है। आज हमने आपको इस निबंध में Solid waste के बारे में सारी जानकारी दी है। हमने आपको ठोस कचरे की किस्मों, इससे कैसे रोके और यह सॉलिड कचरा कैसे पैदा होता है। इन सभी सवालों के जवाब हमने इस पोस्ट में बताए है। अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आती है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here